Suresh Chiplunkar Online

Just another weblog

43 Posts

137 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2416 postid : 87

सीएनएन पर कृष्णन को वोट दीजिये, मानवता की सेवा कीजिये…

Posted On: 11 Nov, 2010 Others,न्यूज़ बर्थ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

एक वर्ष पहले अक्टूबर 2009 में एक पोस्ट लिखी थी, “फ़ाइव स्टार होटल की नौकरी छोड़कर बेघरों और भिखारियों को खाना खिलाता एक संत” (यहाँ क्लिक करके पढ़ें)। यह पोस्ट श्री नारायण कृष्णन के बारे में है कि वे किस तरह सुबह से शाम तक मदुरै की सड़कों पर बेघरों, अपंगों, भिखारियों को भोजन करवाते हैं।

कृष्णन के इस महान कार्य को नोटिस में लेते हुए CNN ने इन्हें इस वर्ष के “हीरोज़ ऑफ़ द ईयर” के रुप में नामांकित किया है। इनके साथ विभिन्न देशों के नौ अन्य लोग भी हैं जो सभी के सभी, बेसहाराओं, बच्चों अथवा पर्यावरण इत्यादि के लिये अपने-अपने क्षेत्र में निस्वार्थ भाव से जनसेवा में लगे हुए हैं। (इन सभी सच्चे नायकों के बारे यहाँ क्लिक करके पढ़ें…)।

YouTube Preview Image

Direct Link :- http://www.youtube.com/watch?v=VRiCpHG8Wmc

संक्षेप में एक बार फ़िर से कृष्णन जी के बारे में जान लीजिये… एक भारतीय फ़ाइव स्टार होटल में कार्यरत युवक जिसे स्विटज़रलैण्ड में शानदार नौकरी का ऑफ़र मिला था, लेकिन उसी दिन मदुराई मन्दिर जाते समय इस युवक ने एक भूखे बेसहारा व्यक्ति को अपना ही मल खाते देखा और वह भीतर तक हिल गया, पल भर में उसने उस हजारों डालर वाली नौकरी को अलविदा कह दिया और मानवता की सेवा में अपना जीवन होम कर देने का फ़ैसला कर लिया।

आज की तारीख में कृष्णन रोज़ाना सुबह चार बजे उठकर अपने हाथों से खाना बनाते हैं, फ़िर अपनी टीम के साथ वैन में सवार होकर मदुरै की सड़कों पर औसतन 200 किमी का चक्कर लगाते हैं तथा जहाँ कहीं भी उन्हें सड़क किनारे भूखे, नंगे, पागल, बीमार, अपंग, बेसहारा, बेघर लोग दिखते हैं वे उन्हें खाना खिलाते हैं… यह काम वे दिन में दो बार करते हैं। औसतन वे रोज़ाना 400 लोगों को भोजन करवाते हैं, तथा समय मिलने पर कई विकलांग और अत्यन्त दीन-हीन अवस्था वाले भिखारियों के बाल काटना और उन्हें नहलाने का काम भी कर डालते हैं।

कृष्णन इन बेघरों और निशक्तों के लिये एक आशियाना भी बनवा रहे हैं ताकि ये लोग सड़कों पर ना भटकते फ़िरें…। एक नज़र डालते हैं उनके रोज़मर्रा के खर्चों पर -

- 400 व्यक्तियों का भोजन
- दिन में तीन बार
- औसतन 200 किमी रोज़ का परिचालन व्यय
(एक बार के भोजन का औसत व्यय 5000 रुपये, अर्थात प्रतिदिन 15,000 रुपये)

इसी प्रकार जो इमारत वे बनवा रहे हैं, उसमें दो व्यक्तियों के लिये कम से कम 130 Sq.ft. की जगह तथा एक साथ एक हॉल में 10 व्यक्तियों के लिये 400 Sq.ft. की जगह का निर्माण कार्य किया जाना है, मदुरै का औसतन रेट रुपये 1200/- प्रति Sq.ft. है… अतः सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि कृष्णन किस तरह से अपनी “अर्थव्यवस्था” चलाते होंगे…

अपने माता-पिता के आरंभिक विरोध के बावजूद उन्होंने “अक्षय ट्रस्ट” के नाम से संस्था बनाई, लोगों से सहयोग लेना शुरु किया, अपनी तरफ़ से अपनी जमापूंजी लगाई और काम शुरु कर दिया। CNN ने इन्हें इस वर्ष के दस सर्वोत्तम “हीरोज़ ऑफ़ द ईयर”में नामित कर लिया है, जिससे इन्हें CNN फ़ाउण्डेशन की तरफ़ से 25,000 डालर का पुरस्कार मिलेगा… परन्तु यदि आप, हम सभी अपने मित्रों के साथ मिलकर CNN की साइट पर कृष्णन के पक्ष में वोट करें और उन्हें दस में से जितवा दें तो यह राशि बढ़कर एक लाख डालर हो जायेगी। हम लोग दिन भर में कई-कई घण्टे कम्प्यूटर और इंटरनेट पर बिता देते हैं, कृष्णन का “अक्षय ट्रस्ट” पैसों की कमी से जूझ रहा है… आईये हम और आप मिलकर कृष्णन के पक्ष में वोटिंग करें, अपने मित्रों को बताएं ताकि वे भी वोट करें… और कृष्णन को जितवाएं।

(ध्यान रहे, वोट देने की अन्तिम तिथि 18 नवम्बर 2010 है…)
एक व्यक्ति अलग-अलग IP पते से कितने भी वोट दे सकता है, साधारण से तीन चरणों में इस प्रक्रिया को करें…

1) नारायण कृष्णन की तस्वीर पर क्लिक करके “वोट” का बटन क्लिक करें…

2) CNN की इस वेबसाइट पर जायें… Like वाले बटन पर क्लिक करें…

3) मित्रों के साथ फ़ेसबुक आदि पर भी Share करने का बटन है, उसे क्लिक करें…

जिस व्यक्ति ने अपना पूरा जीवन इन बेसहारा लोगों के नाम समर्पित करने का फ़ैसला कर लिया है, जो इसलिये अविवाहित है क्योंकि उसके विचारों और सत्कर्म से मिलती-जुलती लड़की ढूंढना मुश्किल है… ऐसे व्यक्ति के लिये क्या हम अपने पाँच मिनट भी नहीं दे सकते?

अतः मेरा आप सभी से अनुरोध है कि खुद भी वोट करें, मित्रों से भी करवायें… न सिर्फ़ भारत से बल्कि विदेशों में स्थित अपने मित्रों के नेटवर्क से कृष्णन को जितवाने के लिये वोट करें… यदि आप आर्थिक रुप से सक्षम हैं और इस नेक काम के लिये कुछ आर्थिक मदद करना चाहते हैं तो आप मदुरै के अक्षय ट्रस्ट को सीधे सहयोग भेज सकते हैं।

भारत में स्थित किसी भी ICICI बैंक की शाखा से NEFT के जरिये सेविंग अकाउंट क्रमांक 601701013912 (खातेदार अक्षय ट्रस्ट, कोचाडई ब्रांच, मदुरै) में राशि भेजें,
जिसका कोड है I F S C I C I C 0 0 0 6 0 1 7
एवं M I C R 6 2 5 2 2 9 0 0 7
(यह सहयोग राशि आयकर की धारा 80(G) के तहत छूट की श्रेणी में आती है)

विदेशी सहयोगकर्ता अक्षय ट्रस्ट के HELP ट्रस्ट के ICICI बैंक खाता क्रमांक 601601081471 (केके नगर, मेलूर रोड मदुरै) में भारतीय मुद्रा के अलावा किसी भी करेंसी में भेज सकते हैं, जिसका कोड है RTGS / IFSC / NEFT ICIC 0006016

यदि चेक अथवा डीडी से भेजना चाहें तो कृष्णन जी के पते पर भेज सकते हैं, जो कि इस प्रकार है -

9, West 1st Main Street,
Doak Nagar Extension, Madurai 625 010. India

Ph: +91(0)452 4353439/2587104 Cell:+91 98433 19933

E mail : ramdost@sancharnet.in www.akshayatrust.org

सभी पाठकों को दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं… आईये इस प्रकाश पर्व पर कृष्णन जैसे सन्त को वोट देकर भारतीय संस्कृति को और समृद्ध बनायें…

| NEXT

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Piyush Pant, Haldwani के द्वारा
November 11, 2010

सुरेश जी……….. मैंने अपना कृष्णन जी को दे दिया है और साथ ही मित्रों को भी प्रेरित किया है……….. इस पुनीत कार्य में सहभागी बनाने के लिए हार्दिक शुक्रिया…………….

सुनील दत्त के द्वारा
November 11, 2010

इस महान सेबक को हमारा प्रणाम आपने हमारे तक जानकारी पहुंचाई आपका धन्यावाद


topic of the week



अन्य ब्लॉग

  • No Posts Found

latest from jagran